Friday, February 23
Shadow

कौन है यहां का थानेदार.. बुलाओ मेरे पास, यह किनकी गाड़ी है, एक बाइक मेरे घर पर भेजो, खगडि़या से आया गजब मामला

परबत्ता (खगड़िया)। बिहार में शराबबंदी है। शराब की खरीद-बिक्री पर रोक है। यहां तक कि इस राज्‍य में शराब पीने पर भी प्रतिबंध है। इसके बावजूद यहां शराब की तस्‍करी हो रही है। रोज शराब पीने का मामला भी सामने आता रहता है। खगडि़या में एक शराबी ने गजब का नाटक कर दिया। शराबियों की नौटंकी से पुलिस महकमा भी चकरा गया। शराब पीने के बाद लगता है कि उसे किसी का डर है ही नहीं। आए दिन शराब पीकर चौक-चौराहे पर उत्पात मचाते रहते हैं।

एक युवक शराब पीकर परबत्ता थाना परिसर तक पहुंच गया। वह काफी बेखौफ था। परबत्ता थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार पाल से ही उसने पूछ लिया कि… ऐ साहब, बताओ, यहां के बड़ा बाबू कौन है। कहां हैं। मेरे पास बुलाओ उसे। और भी बताओ कि थाने में इतना जो मोटरसाइकिल जमा है वह किसका है।

थानाध्यक्ष कुछ समझ नहीं पाए कि माजरा क्या हैं। उन्होंने कहा, बताओ, क्या बात है। थानाध्यक्ष से क्या काम है। जवाब में शराबी युवक बोला, मुझे थाना में बरामद गाड़ी की खरीदारी करनी है और एक गाड़ी लेकर जानी है, वह भी आज ही। थानाध्यक्ष को यह समझते देर नहीं लगी। युवक होश में नहीं है। उसे तत्क्षण हिरासत में लिया गया। जब उसकी जांच की गई, तो शराब के नशे में पाया गया।

शराबी युवक की पहचान नयागांव-पचखुट्टी निवासी संजय मंडल के पुत्र साहेब कुमार के रूप में की गई है। घटना मंगलवार संध्या के समय की बताई गई है। गिरफ्तार शराबी को आवश्यक पूछताछ और कागजी प्रक्रिया पूरी करने के बाद न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया है। परबत्ता थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार पाल ने बताया कि थाना में ब्रेथ एनलाइजर से हुई जांच और परबत्ता सीएचसी में हुई मेडिकल जांच, दोनों में उक्त युवक शराब के नशे में पाया गया। 51 एमजी पर सौ एमएल अल्कोहल पाया गया। इधर इस घटना की चर्चा थाना से लेकर अस्पताल और आसपास में खूब है। लोग उस शराबी युवक के दुस्साहस से दंग हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *