Wednesday, February 28
Shadow

 निलंबित क्लर्क अरुण कुमार गिरफ्तार, भागलपुर में CBI की बड़ी कार्रवाई, जानें आरोप…

बिहार के सृजन घोटाला मामले में सीबीआई ने शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई की है. एक और अभियुक्त की इस मामले में गिरफ्तारी हुई है. सीबीआई ने डीआरडीए के निलंबित लिपिक अरुण कुमार को भागलपुर से गिरफ्तार किया है.

जांच के लिए अभियुक्त को सदर अस्पताल लेकर टीम गयी. डीआरडीए के खाते से हुए घोटाले में लिपिक अरुण कुमार की संलिप्तता पाई गयी थी. तिलकामांझी के न्यू प्राणवती लेन में गली नंबर 8 स्थित निजी आवास से गिरफ्तारी की गयी है.

बता दें कि सृजन घोटाला मामले में फिर एकबार सीबीआई की सक्रियता तेज हुई है. बुधवार को सीबीआई की टीम ने लोकल पुलिस के साथ आधा दर्जन सार्वजनिक जगहों पर पब्लिक नोटिस चिपकाया था. कोर्ट के आदेश पर सृजन घोटाला मामले में फरार अभियुक्त रजनी प्रिया की तलाश सीबीआई ने शुरू कर दी है.

सीबीआइ दिल्ली के पुलिस इंस्पेक्टर जोगेंद्र शेहरावत ने नोटिस पर अपील की है कि रजनी प्रिया के बारे में किसी को कोई जानकारी मिले, तो सीबीआइ कार्यालय में दूरभाष से सूचित करें. इसके लिए पब्लिक नोटिस में सीबीआइ ने दूरभाष नंबर भी अंकित किया है. सीबीआइ केस आरसी नंबर 12(ए), 2017, नयी दिल्ली में रजनी प्रिया पत्नी अमित कुमार (सीबीआइ बनाम नबीन कुमार साहा व अन्य) धारा 82 सीआरपीसी के तहत कार्यवाही है.

उधर शुक्रवार को निलंबित लिपिक की गिरफ्तारी से सनसनी फैल गयी. लिपिक अरुण कुमार पर डीआरडीए खाते से अवैध निकासी मामले में आरोप लगे हैं. लिपिक को जब उन ट्रांजेक्शन के बाउचर मांगे गये थे, जिसका जिक्र कैश बुक में था. तो वो पेश नहीं कर सके थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *