Friday, February 23
Shadow

सुरंग बनाकर ले गए 16 रेल इंजन के पार्ट्स, 2020 से ही काम कर रहा था गैंग

बरौनी के गढ़हरा रेलवे यार्ड से इंजन के पार्ट्स की चोरी का मामला सामने आया है. कुछ महीने पहले रोहतास में लोहे के पुल की चोरी की खबर आई थी. एक दो नहीं बल्कि अब तक इस यार्ड से 16 इंजन के पार्ट्स की चोरी हो चुकी है. 2020 से ही सुरंग बनाकर गैंग चोरी की घटना को अंजाम देने में लगे हैं. अब फिर से इस तरह का मामला सामने आने के बाद अधिकारी हरकत में आ गए हैं. सुरंग काटकर अब तक करोड़ों रुपये के पार्ट्स की चोरी हो चुकी है.

बताया जाता है कि पिछले सप्ताह बरौनी के गढ़हरा यार्ड में मरम्मत के लिए लाए गए ट्रेन के पूरे डीजल इंजन को एक गिरोह ने चुरा लिया था. दीवार के इस पार से उस पार तक सुरंग बनाया गया था. गिरोह ने कुछ पुर्जे चुराकर इसे हासिल किया. पहली बार तब पता चला जब पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया. उनकी सूचना के आधार पर मुजफ्फरपुर की प्रभात कॉलोनी स्थित एक कबाड़ के गोदाम से इंजन के पुर्जों की 13 बोरियां बरामद हुईं.

क्या कहते हैं अधिकारी?

गढ़हरा रेलवे सुरक्षा बल के प्रभारी निरीक्षक सुनील पांडेय ने बताया कि चोरी की सूचना मिलने पर जिले के एफसीआई थाना क्षेत्र बीहट में शक के आधार पर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. पूछताछ पर पुनः अन्य लोगों की जानकारी मिली. इस चोरी का तार मुजफ्फरपुर से जुड़ा.

2020 से ही लगा है गैंग

बताया जाता है कि एक पूरा गैंग इसके लिए काम कर रहा है जिसका कनेक्शन बेगूसराय से लेकर मुजफ्फरपुर तक है. 2020 के बाद से अब तक 16 रेल इंजन के पार्ट्स को चोरों ने सुरंग के रास्ते गायब कर दिया है. हालांकि चोरों की इस करतूत के बाद रेल प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड में आ गया और सामान को भी बरामद कर लिया गया. अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि चोरों के द्वारा कितने दिनों से इन घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा था.

गौरतलब है कि कोरोना काल में समस्तीपुर रेल डिवीजन ने अपने परित्यक्त रेल इंजन को बरौनी लोकोमोटिव शेड एवं डीजल शेड में लाकर रख दिया था. गढ़हरा यार्ड के स्थानीय पदाधिकारियों का कहना है कि समस्तीपुर रेल डिवीजन के द्वारा सामान को तो रख दिया गया लेकिन उसकी सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं किया गया और न ही कोई गार्ड दिया गया. अब चोरी की घटना सामने आ रही है तो पूरे रेल महकमे में हड़कंप मचा हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *