भोजपुरी इंडस्ट्री की ‘विवादास्पद पहचान ’ को बदलने के लिए ये महत्वपूर्ण कदम उठाएंगे मनोज तिवारी…

Advertisement

Desk: अभिनेता से नेता बने मनोज तिवारी भोजपुरी सिनेमा का एक जाना-पहचाना चेहरा भी है. बता दे, जल्द ही मनोज तिवारी भोजपुरी वेब सीरीज ‘पुत्र धरती’ में नजर आने वाले हैं. यह सीरीज भोजपुरी के पहले ओटीटी प्लेटफॉर्म चौपाल पर रिलीज होने जा रही है. हाल ही में चौपाल के लॉन्च पर मनोज तिवारी ने भोजपुरी सिनेमा और उसमें आने वाले बदलावों के बारे में बात किया था.

Join

भोजपुरी स्टार्स को होगा ओटीटी से फायदा 

Advertisement

बता दे, मनोज तिवारी ने भोजपुरी ओटीटी प्लेटफॉर्म पर बात करते हुए इसे कलाकारों के लिए वरदान बताया है. मनोज तिवारी का कहना है कि बिहार देश का एक बड़ा राज्य है. लेकिन वहां के थिएटर फिल्म देखने लायक नहीं हैं। ऐसे में चौपाल का आना भोजपुरी इंडस्ट्री और यहां के सितारों के लिए फायदेमंद साबित होने वाला है.

भोजपुरी सिनेमा की छवि को नुकसान कई मौके ऐसे आए हैं जब भोजपुरी सिनेमा पर अश्लीलता फैलाने का आरोप भी लगा है , इस बारे में बात करते हुए मनोज तिवारी ने कहा है कि गलतियां हुई हैं. इसलिए भोजपुरी सिनेमा से भी लोगों का ध्यान हट गया है. मैं भी उनमें शामिल हूं. वह कहता है कि मुझे लगा कि जो हो रहा था वह सही नहीं था. तो अब मैंने फिर से शुरू करने का मन बना लिया है. अश्लीलता को खत्म करने और दबी हुई अच्छी चीजों को बाहर निकालने का प्रयास होने जा रहा है. मनोज तिवारी ने यह भी कहा है कि व्यस्त होने के कारण वह भोजपुरी सिनेमा से दूर नहीं हुए. मुद्दा यह था कि उद्योग की कहानी अच्छी नहीं थी. हालाँकि, उनके शो अभी भी हो रहे थे.

आगे बात करते हुए उन्होंने कहा है कि साउथ की फिल्में अच्छा बिजनेस कर रही हैं क्योंकि 5-6 किमी की दूरी पर हर जगह आधुनिक थिएटर हैं. भोजपुरी सिनेमा के लोग आधुनिक थिएटर नहीं बना सके. लेकिन चौपाल जैसे प्लेटफॉर्म के लिए अभय सिन्हा और संदीप बंसल किसी तारीफ से कम नहीं हैं. मनोज तिवारी का कहना है कि चौपाल के जरिए भोजपुरी की कहानियों और मुद्दों को सिनेमा में जगह मिलेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here