बिहार के सिवान में आर्थिक तंगी से पिता ने दो बच्चियों को तालाब में फेंका, खुद भी लगाई छलांग

Advertisement

सिवान के एमएच नगर थाना क्षेत्र में प्रखंड कार्यालय के पीछे स्थित तालाब में गुरुवार की देर शाम आर्थिक तंगी से जूझ रहे एक व्यक्ति (शारीरिक रूप से दिव्यांग) ने अपनी दो नाबालिग बच्चियों को तालाब में फेंक दिया और स्वयं भी कूद कर आत्महत्या करने की कोशिश की। घटना को देखकर मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों ने व्यक्ति को किसी तरह तालाब से निकाल कर बचा लिया लेकिन दोनों बच्चियों की डूबने से मौत हो गई। मृत बच्चियां थानाक्षेत्र के अरंडा हौली मोहल्ला निवासी विनोद साह की दो पुत्रियां चार वर्षीय सलोनी कुमारी व दो वर्षीय बुलबुल कुमारी बताई जाती हैं। विनोद कुमार शारीरिक रूप से दिव्यांग हैं। घटना के बाद स्वजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

Join

तीन साल पहले हो गए थे लकवाग्रस्त

Advertisement

घटना के संबंध में स्वजनों ने बताया कि विनोद तीन वर्ष पूर्व लकवा से ग्रसित हो गए थे। शारीरिक रूप से दिव्यांग होने के बाद उन्हें काम नहीं मिला। इससे वे आर्थिक तंगी झेल रहे थे। आर्थिक तंगी के कारण रोजाना घर में भी कलेश होता था। इसी बीच गुरुवार की देर शाम विनोद अपनी दो पुत्रियों चार वर्षीय सलोनी कुमारी व दो वर्षीय बुलबुल कुमारी को लेकर प्रखंड कार्यालय के पीछे स्थित तालाब के पास पहुंचे। वहां विनोद ने पहले दोनों बच्चियों को तालाब में फेंक दिया और इसके बाद खुद भी तालाब में छलांग लगा दी।

स्थानीय लोगों ने पिता की बचाई जान

तीनों को डूबता देख स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे और विनोद को तालाब से बाहर निकाल बच्चियों की तलाश शुरू कर दी, लेकिन तबतक काफी देर हो चुकी थी। डूबने से दोनों बच्चियों की मौत हो गई। बता दें कि विनोद साह की तीन पुत्रियां हैं। घटना के बाद बच्चियों की मां सबिता देवी और बड़ी बहन सोनी कुमारी का रो-रोकर बुरा हाल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here