आलोक मेहता को मिली धमकी, सरकार में होनें के बावजूद लगा रहे सुरक्षा की गुहार…..

Advertisement

Patna : बिहार सरकार के राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री आलोक मेहता को जान से मारने की धमकी मिली है जिसको लेकर उन्होंने सरकार से कार्रवाई करने की मांग की है. आपको दें आलोक मेहता ने एक आवेदन के जरिए बिहार सरकार से कानूनी कार्रवाई की मांग करते हुए कहा है कि उनके सरकारी मोबाइल नंबर पर एक फोन आया, ट्रूकॉलर पर फोन करने वाले का नाम दीपक पांडे दिखाया जा रहा था. जबरू नहीं फोन उठाया तो जातिसूचक शब्दों के साथ-साथ उन्हें गंदी गंदी गालियां दी गई. फिर उन्होंने फोन काट कर नंबर को ब्लॉक कर दिया. उसके बाद भी दूसरे नंबर से फोन आने लगा. इस कॉल पर ट्रूकॉलर में पप्पू त्रिपाठी का नाम डिस्प्ले पर शो कर रहा था. इसके साथ ही उन्होंने फोन करने वालों पर शीघ्र कानूनी कार्रवाई करने के साथ-साथ सुरक्षा की भी मांग की है.

Join

इसके अलावा राजद प्रवक्ता एजाज अहमद ने अविलंब अभियुक्त की गिरफ्तारी के साथ इनकी सुरक्षा के कारगर उपाय की मांग की है. बिहार प्रदेश राजद के प्रवक्ता एजाज़ अहमद ने इस तरह की धमकी देने वाले पर कार्रवाई की मांग करते हुए कहा कि इस घटना में लिप्त व्यक्ति पर कार्रवाई जल्द से जल्द की जाए तथा आलोक मेहता के सुरक्षा के कारगर उपाय की जाए.

Advertisement

दरअसल, बिहार सरकार के मंत्री आलोक मेहता ने कहा था कि, आज जो 10% वाले लोग हैं वह पहले अग्रेजों के गुलाम थे और अंग्रेजों की दलाली किया करते थे. इतना ही नहीं इनलोगों का काम सिर्फ और सिर्फ मंदिरों में घंटी बजाना भर था. जिसके बाद इसको लेकर बिहार की राजनीती में जमकर बबाल मच गया. जहां विपक्षी दल के नेता इसे गलत बताकर उनसे माफ़ी मांगने की मांग उठाने करने लगें. तो वहीं खुद उन्हीं के सरकार में सहयोगी पार्टी जेडीयू के नेता भी इसे गलत बताकर इस तरह की बयानबाजी न करने और माफ़ी मांगने की सलाह देने लगे.

वहीं अब उन्हें जो धमकी मिली हैं उसे कहीं न कहीं इस बयान से जोड़कर देखा जा रहा हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here