Friday, March 1
Shadow

Bihar Election: नीतीश को बिहार की राजनीति छोड़, केंद्र की राजनीति करनी चाहिए: पप्पू यादव

इस बार पूरे चुनाव में नीतीश कुमार थके, मजबूर, कमजोर और कृपा पर जीने वाले नेता दिखाई दिए। पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने डीएनए को मुद्दा बनाया था और इस बार मुख्यमंत्री के रूप में आखिरी मौका को। वे सिर्फ जनता को इमोशनल ब्लैकमेल करते हैं। उन्हें अब बिहार की राजनीति से संन्यास ले लेना चाहिए और केंद्र की राजनीति करनी चाहिए।

पटना में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ये बातें जन अधिकार पार्टी (जाप) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कही। चुनाव प्रचार में अपनी प्रतिज्ञा यात्रा का जिक्र करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि जाप ने इस बार 156 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। चुनाव प्रचार के दौरान मैंने 204 सभाएं की और 100 से अधिक घंटा जनता को संबोधित किया। आखिरी चरण के मतदान में जाप को वोट देने की अपील करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि हमें बिहार के 30 वर्षों के महापाप को धोने के लिए 3 साल चाहिए। बाढ़ और लॉकडाउन में जब सभी नेता अपने-अपने बंगले में कैद हो गये थे तब मैंने और मेरी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जरूरतमंदों के बीच राशन और अन्य राहत सामग्रियां पहुंचाई। जनता इस बार जातिवाद और संप्रदायवाद को छोड़, नेता नहीं सेवक चुने। नीतीश को हराना चाहती है भाजपा बीजेपी पर हमला बोलते हुए जाप अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा नीतीश कुमार को हराना चाहती है।

यह भी पढ़े :- बिहार चुनाव : राजद और भाजपा को टक्कर दे रहे हायाघाट के प्रत्याशी को अपराधियों ने मारी गोली

वो चाहती है कि इस बार मुख्यमंत्री उनका बने। इसलिए लोजपा को अलग किया गया और फंडिंग की। अगर मुकेश सहनी की पार्टी वीआइपी को 11 सीटें मिल सकती हैं तो क्या चिराग को एनडीए का हिस्सा रखते हुए 30 सीटें नहीं मिल सकती थी? बीजेपी और आरजेडी के बीच डील महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजश्वी यादव को युवराज कहते हुए पप्पू यादव ने कहा कि युवराज ने अपने भाषण में कभी नरेन्द्र मोदी के खिलाफ नहीं बोला। वो हमेशा नीतीश कुमार पर हमला बोलते रहें। साफ़ पता चलता है कि भाजपा और राजद के बीच कोई डील हुई है। इसी के तहत तेजश्वी यादव के खिलाफ हो रहे जांच रोक दिए गए। अब कोई पूछताछ क्यों नहीं हो रही? ओवैसी, रालोसपा और बीएसपी को फंडिंग कर रही है बीजेपी पप्पू यादव ने आगे कहा कि बिहार को गरीबी और भूखमरी की ओर धकेलने में भाजपा का सबसे बड़ा हाथ है।

बिहार को एक लाख साठ हजार करोड़ का वादा किया गया लेकिन आज तक नहीं मिला। जीएसटी का पैसा भी केंद्र सरकार नहीं दे रही। मौजूदा सरकार में सभी अहम विभाग- वित्त, पीडब्लूडी, पथ निर्माण विभाग भाजपा के पास है। यदि हम सत्ता में आते हैं तो इन सभी की जांच होगी और दोषियों को 3 महीने के अंदर सजा मिलेगी.। पप्पू यादव ने कहा कि रालोसपा, बीएसपी और ओवैसी की पार्टी को फंडिंग बीजेपी कर रही है।

बिहार और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें DTW 24 NEWS UPDATE Whatsapp Group:- https://chat.whatsapp.com/E0WP7QEawBc15hcHfHFruf

Support Free Journalism:-https://dtw24news.in/dtw-24-news-ka-hissa-bane-or-support-kare-free-journalism

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *