Friday, February 23
Shadow

Muzaffarpur Municipal Corporation: शहर के लोग साफ-सफाई नहीं होने की बात कहकर टैक्स देने में करते आनाकानी

Muzaffarpur Municipal Corporation: निगम टैक्स वसूली के दौरान यदि संबंधित इलाके में साफ-सफाई को लेकर जनता की शिकायत मिलती है तो लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। जल संयोजक के आवेदन का त्वरित निष्पादन किया जाएगा। निगम टैक्स के बड़े बकायेदारों को अब सेकेंड नोटिस भेजी जाएगी ताकि आगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सके। नवनिर्मित मकानों एवं छूटे मकानों की नापी कर उनको कर के दायरे में लाया जाएगा। शुक्रवार को निगम कार्यालय सभागार में नगर आयुक्त नवीन कुमार ने निगम राजस्व वसूली की समीक्षा को लेकर बैठक की। बैठक में राजस्व से संबंधित सभी शाखा के प्रभारियों ने भाग लिया।

लोग टैक्स देने में आना-कानी कर रहे

बैठक में शामिल तहसीलदाराें का कहना था कि साफ-सफाई नहीं होने एवं पानी नहीं मिलने की बात कर लोग टैक्स देने में आना-कानी कर रहे है। नगर आयुक्त ने सिटी मैनेजर को तलब कर शिकायत वाले इलाकों में जाकर निरीक्षण करने को कहा। साथ ही गंदगी पाए जाने पर संबंधित इलाके के सफाई प्रभारी एवं कार्मचारियाें पर कार्रवाई का निर्देश दिया। उन्होंने अब तक बकाया संपत्ति कर अब तक जमा नहीं करने वालोंं को सेकेंड नोटिस देने को कहा। इसके बाद भी बकाया कर नहीं देने वालों पर कानूनी कार्रवाई करने को कहा। बैठक के दौरान राजस्व वसूली में लापरवाही बरतने वालों को फटकार लगाई।

अतिक्रमणकारियों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई

शहर से बारिश का पानी निकालने के लिए बने रहे नाला की राह में बाधक बने अतिकमणकारियों को सख्ती से निपटा जाएगा। छाता चौक पर जर्जर पुलिया की मरम्मत की जाएगी। योजना के तहत बनने वाले नाला के निर्माण में तेजी लाई जाएगी ताकि अगले साल बरसात से पूर्व काम को खत्म हो सके। एसटीपी निर्माण में उत्पन्न बाधा को दूर किया जाएगा। शुक्रवार को नगर आयुक्त नवीन कुमार ने जल निकासी योजना की स्थल जांच की। योजना के तहत तीन नला एवं तीन एसटीपी का निर्माण होना है। लेकिन अबतक सिर्फ एक नाला एवं एक एसटीपी का निर्माण कार्य चल रहा है। उन्होंने काम कर रही एजेंसी को काम में तेजी लाने का निर्देश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *