Tuesday, February 27
Shadow

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन से ED कर रही पूछताछ, गुस्साए मुख्यमंत्री ने कहा – लग रहा है कि हम देश छोड़कर भागने वाले लोग हैं

अवैध खनन पट्टा मामले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज ईडी के समझ पेश हुए हैं। हालंकि, उन्होंने साफ तौर पर कहा कि उनके ऊपर लगे आरोप पूरी तरीके से निराधार है। झारखंड मे मुख्यमंत्री मे मीडिया से बात करते हुए कहा कि जब से एजेंसी जांच कर रही है, जो आरोप लगे हैं वो कहीं से संभव प्रतीत नहीं होते। कहीं न कहीं एजेंसियों को जांच करने के बाद भी कोई ठोस निर्णय या ठोस आरोप लगाना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं CM हूं जिस प्रकार से तलब करने का कार्रवाई चल रही है, लग रहा है कि हम देश छोड़कर भागने वाले लोग हैं।

सोरेन ने कहा कि आज मुझे ED के दफ्तर में जाना है। राज्य में अवैध खनन की जांच ED कर रही है। उस संदर्भ में मुझे तलब किया है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में मैंने एक पत्र ED को भेजा है कि किस प्रकार से 1000 करोड़ के घोटाले का जो जिक्र साहेबगंज जिले से आया है वो दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि आपको तय करना है कि इस राज्य में षड्यंत्रकारियों का राज चलेगा या यहां के आदिवासियों का। हमें सत्ता से बेदखल करने के लिए ये लोग लगे हुए हैं, इन्हें पता है कि अगर मैं पांच वर्ष तक यहां टिक गया तो आदिवासियों को मजबूत कर दूंगा।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि जो लोग बाहर से आकर यहां राजनीति करते हैं उन्हें मैं बाहर कर दूंगा। गौरतलब है कि अवैध खनन मामले में मुख्यमंत्री सोरेन को ईडी ने बृहस्पतिवार को पूछताछ के लिए बुलाया है। इससे पहले रांची में मुख्यमंत्री आवास पर संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के विधायकों की बैठक हुई। सभी विधायकों को रांची में ही रहने के निर्देश दिए गए हैं। राज्य में सत्ताधारी झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) ने बड़ी रैली करने और विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है।

इससे पहले मंगलवार को सोरेन ने ईडी के समक्ष पेश होने के लिए 16 नवंबर की तारीख मांगी थी जिसे जांच एजेंसी ने खारिज कर दिया था तथा उन्हें तय समय पर 17 नवंबर को ही ईडी के समक्ष पेश होने को कहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *