Thursday, June 20
Shadow

भारत में कब लॉन्च होगा PUBG? पहले से कितना होगा अलग? जानें गेम से जुड़े सभी सवालों के जवाब

पबजी गेम लवर्स (PUBG Game Lovers) को उस दिन का इंतजार है जब उनका जान से प्यारा गेम पबजी वापस लौट आएगा. हालांकि, अभी गेम की वापसी का ही ऐलान हुआ है लेकिन भारत (India) में यह गेम कब तक लॉन्च होगा इस पर से पर्दा नहीं हटा है. भारत में पबजी अपने नए नाम ‘पबजी मोबाइल इंडिया’ (PUBG Mobile India) से बहुत जल्द दस्तक देने वाला है. पबजी के ग्लोबल गेमर में लगभग 25 फीसदी भारत से हैं. अब भारत में इसके चाहने वाले ताक लगाए बैठे हैं. वहीं, पबजी वेबसाइट पर मोबाइल इंडिया के इंस्टाग्राम, फेसबुक और यूट्यूब चैनल के लिंक भी जारी किए जा चुके हैं. कंपनी ने इसका पहला टीजर भी जारी कर दिया है. आइए जानते हैं इसके बारे में पूरी डिटेल.

भारत में पबजी की वापसी कब?

भारत में पबजी के लॉन्च होने को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं. लेकिन पबजी कॉर्पोरेशन और इसकी भारतीय सहायक कंपनी ने इसकी वापसी की अभी कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है. फिलहाल कंपनी की वेबसाइट पर ‘कमिंग सून’ का बैनर लगा हुआ है. लेकिन खबर है कि काउंटडाउन शुरू हो गया है और गेम बहुत जल्द लॉन्च होने वाला है.

इस पर पबजी कॉर्पोरेशन का कहना है कि ‘पबजी मोबाइल इंडिया’ भारतीय गेम लवर्स के लिए बहुत अहम है. भारतीय गेमर्स को ध्यान में रखते हुए गेम में कई बदलाव किए गये हैं. इसमें अब वर्चुअल सिमुलेशन ट्रेनिंग ग्राउंड स्थापित किया गया है. नए वर्जन में कुछ कैरेक्टर ऐसे होंगे जो खुद ही कपड़े बदलने लगेंगे, वहीं गेम के वर्चुअल नेचर को रिफ्लेक्ट करने के लिए ‘ग्रीन हिट इफेक्ट्स’ जोड़े गए है. नए वर्जन में सबसे अहम बात यह होगी कि इसमें एक गेम टाइमर भी होगा. यानी कंपनी गेमर के स्वास्थ्य और पूर्व में हुए हादसों को ध्यान रखते हुए इसमें यह फीचर जोड़ने जा रही है.

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी को मिली जिम्मेदारी

पबजी कॉर्पोरेशन (PUBG Corporation) और पेरेंट कंपनी क्राफ्टन (KRAFTON), पबजी मोबाइल गेम डेटा को होस्ट करने के लिए माइक्रोसॉफ्ट एज्योर क्लाउड सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) के साथ काम कर रही है. बता दें कि अक्टूबर साल 2017 में पबजी गेम को एक्सबोक्स वर्जन (Xbox Version) के लिए अमेजन वेब सर्विस से माइक्रोसॉफ्ट एज्योर (Mircorsoft Azure) को सौंप दी गई थी. एक रिपोर्ट के मुताबिक, पहले से प्रतिबंधित किसी भी गेमर आईडी को पबजी मोबाइल इंडिया गेम में माइग्रेट नहीं किया जाएगा.

क्राफ्टन करेगी निवेश

बता दें कि पबजी कॉर्पोरेशन की पेटेंट कंपनी क्राफ्टन भारत में इस गेम में 100 मिलियन डॉलर का निवेश करने जा रही है. साथ ही ‘पबजी मोबाइल इंडिया गेम’ भारत की एक सहायक कंपनी के अंतर्गत काम करेगी. लेकिन भारत में गेम कब लॉन्च होगा और भारत सरकार से कब अप्रूवल मिलेगा अभी इस पर कोई जानकारी सामने नहीं आई है. कंपनी की वेबसाइट पर अभी भी गेम के ‘कमिंग सून’ का टैग लगा हुआ है.

क्यों लगा था पबजी मोबाइल पर बैन

मौजूदा वर्ष के सितंबर महीने में सुरक्षा कारणों के चलते देश में पबजी मोबाइल पर बैन लगा दिया गया था. उस दौरान भारत सरकार ने 118 चीनी ऐप्स पर बैन लगाया था. जिसमें लूडो वर्ल्ड, आपुस लॉन्चर, अलीप्ले और सुपर क्लीन जैसे ऐप शामिल थे. वहीं, 29 जून को मशहूर वीडियो एप टिक टॉक समेत 59 चीनी ऐप्स पर आईटी एक्ट की धारा 69ए के तहत रोक लगा दी गई थी.

पबजी मोबाइल को डाउनलोड करना गैरकानूनी

टेक्नीकली देखा जाए तो जब से गेम पर प्रतिबंध लगा है तब से सरकारी निर्देश में साफ तौर पर कहा गया है कि अनाधिकारिक तरीकों से गेम को डाउनलोड करना या अपडेट करना या फिर प्रतिबंधों को दरकिनार करके इसकी ऑनलाइन डिटेल तक पहुंचने की कोशिश करना भारत में गैरकानूनी और अवैध है.

(ये भी पढ़ें-Airtel का सबसे सस्ता प्लान! सिर्फ 19 रुपये में मिलती है अनलिमिटेड कॉलिंग, इंटरनेट डेटा भी…) 

सरकार की ओर से कोई बयान नहीं आया

क्या पबजी कॉर्पोरेशन और उसकी भारतीय इकाई पबजी मोबाइल इंडिया के पास इसे लॉन्च करने की अनुमति है? बता दें कि अभी गेम की रिलीज को मंजूरी और उसे अनुमति देने पर पबजी कॉर्पोरेशन या भारत सरकार की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

बिहार और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें DTW 24 NEWS UPDATE Whatsapp Group:- https://chat.whatsapp.com/E0WP7QEawBc15hcHfHFruf

Support Free Journalism:-https://dtw24news.in/dtw-24-news-ka-hissa-bane-or-support-kare-free-journalism

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *