Tuesday, February 27
Shadow

बिहार चुनाव से पहले की खास तस्वीर, रामविलास के श्राद्ध में साथ दिखे नीतीश-चिराग और तेजस्वी

पटना: दिवंगत नेता और रामविलास पासवान का श्राद्ध कार्यक्रम 20 अक्टूबर को पटना में आयोजित किया गया. पटना के एलजेपी प्रदेश कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, चिराग पासवान और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव एक साथ दिखे. 

नीतीश कुमार, तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) सहित मौके पर पहुंचे कई नेताओं ने रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) को श्रद्धांजलि दी. कार्यक्रम में जैसे ही नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पहुंचे तो चिराग पासवान ने पैर छूकर उनका आशीर्वाद लिया. इस दौरान नीतीश कुमार ने चिराग पासवान की मां से भी मुलाकात की और उनका हालचाल जाना. 

रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि देने के लिए बड़ी संख्या में उनके समर्थक और चाहने वाले जुटे. बिहार में चुनावी सरगर्मी तेज है और सभी राजनीतिक दल चुनाव प्रचार अभियान में जोर-शोर से जुटे हुए हैं. एलजेपी का व्हीलर रोड स्थित कार्यालय एयरपोर्ट के पास है. शाम को चुनावी प्रचार अभियान से लौटने के बाद सबसे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एलजेपी कार्यालय पहुंचे जहां रामविलास पासवान के छोटे भाई और हाजीपुर से सांसद पशुपति कुमार पारस में उनकी अगवानी की, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पशुपति कुमार पारस से मिलकर संवेदना व्यक्त की इसके ठीक बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव चुनावी अभियान से पटना एयरपोर्ट लौटने के बाद सीधा एलजेपी कार्यालय पहुंचे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ,पशुपति कुमार पारस और तेजस्वी यादव साथ साथ बैठे औप इसी बीच एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान पार्टी कार्यालय पहुंचे और राजनीतिक प्रतिद्वंदिता वाले इन तीनों नेताओं की मुलाकात व्हीलर रोड स्थित पार्टी कार्यालय के बरामदे पर हुई. बिहार में राजनीतिक रूप से विचारधारा चाहे जितनी अलग हो और एक दूसरे पर बयानों के तीर भी लगातार चले लेकिन पारिवारिक और सामाजिक स्तर पर सुख-दुख में शामिल होने की एक समृद्ध परंपरा रही है.

उसी कड़ी में सभी नेता एक साथ एलजेपी कार्यालय में उपस्थित हुए और रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि दी. हाल के दिनों में चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ लगातार मोर्चा खोल रखा है जबकि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पहले से ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और एनडीए पर निशाना साधने में जुटे हैं. एनडीए में चिराग पासवान के बदले रुख को लेकर कई समस्याएं भी आई यहां तक की सीट शेयरिंग में भी देरी हुई और गठबंधन के स्वरूप पर भी असर पड़ा.

चिराग पासवान लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऊपर हमले करते रहे लेकिन दुख की इस घड़ी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजनीतिक प्रतिद्वंदिता को दरकिनार कर एलजेपी कार्यालय पहुंचे और पशुपति कुमार पारस के साथ चिराग पासवान से भी संवेदना जताई साथ ही परिवार के लोगों से भी मिलकर सहानुभूति व्यक्त की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने चिराग पासवान की मां रीना पासवान से अपनी संवेदना व्यक्त की. रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि दी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से जब चिराग पासवान आमने-सामने हुए तो चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पैर छूकर प्रणाम किया. राजनैतिक दलों में तल्खी चाहे चरम पर हो लेकिन सामाजिक परिवारिक स्तर पर एक सुंदर तस्वीर एलजेपी कार्यालय में देखने को मिली. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *