राजीव नगर में क्यों चल रहा बुलडोजर, आवास बोर्ड के इस विवाद में क्या हुआ अब तक

राजीव नगर में क्यों चल रहा बुलडोजर, आवास बोर्ड के इस विवाद में क्या हुआ अब तक
Advertisement

पटना के राजीव नगर स्थित नेपाली नगर में सुबह से ही 70 मकानों को तोड़ने के लिए प्रशासन ने बुल्डोज़र उतार दिया है. जिसका स्थानीय लोग जमकर विरोध कर रहे हैं. मौके पर पत्थरबाजी और गोलीबारी में कई लोग घायल भी हो चुके है. क्या है यह पूरा मामला और इसको लेकर अब तक क्या हुआ जाने…

Join

घरों को तोड़ने का मिला था नोटिस 

राजीव नगर के 10 24 एकड़ में रह रहे लोगों को जिला प्रशासन की ओर से 70 घरों को तोड़ने का नोटिस भेजा गया था. साथ ही 20 एकड़ जमीन अधिग्रहण करने की बात कही गई थी. यह नोटिस सीओ ने जारी किया था जिसके बाद राजीव नगर के लोगों में काफी आक्रोश है.

Advertisement

23 मई को दिया गया नोटिस का जवाब 

नोटिस मिलने के बाद 23 मई को दीघा कृषि भूमि आवास बचाओ संघर्ष समिति के सैकड़ों सदस्य सोमवार को अंचलाधिकारी पटना द्वारा निर्गत नोटिस का जवाब देने उनके कार्यालय में पहुंचें. जहां समिति के अध्यक्ष श्रीनाथ सिंह ने सीओ को अपना पक्ष प्रस्तुत किया था. जिसे पढ़ने के बाद अंचलाधिकारी ने ने इस मामले में सात जून तक किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं करने का आश्वासन दिया था.

आगजनी करते लोग

24 मई को थाली बजाकर जताया विरोध 

राजीव नगर के 1024.52 एकड़ में रहने वाले लोगों ने आवास बोर्ड व जिला प्रशासन के विरोध में 24 मई मंगलवार की शाम में थाली, शंख बजाकर आक्रोश जताया था. जिसमें पुरुष, महिलाएं व बच्चों ने घर की छतों व गलियों में निकलकर आधे घंटे तक थाली बजाकर विरोध जताया था.

27 मई को निकला था मौन जुलूस 

27 मई को नेपाली नगर के मनसापुरण हनुमान मंदिर परिसर से काली पट्टी लगाकर मौन जुलूस निकाला गया था. जुलूस नेपाली नगर पुल से होते हुए राजीव नगर थाना होते हुए घुड़दौड़ रोड चौराहा होते हुए रोड नंबर 25 से होते राजीव नगर मुख्य नाला तक पहुंचा था. जिसमें पुरुषों के साथ-साथ महिलाएं ने भी हिस्सा लिया. वहीं, स्स्थानीय विधायक और पार्षद भी जुलूस में हिस्सा लेंगे.

लोगों का विरोध

26 जून को डिप्टी सीएम आवास का किया था घेराव 

पटना में राजीव नगर आवास बोर्ड मामले में लोगों को आवास से हटाने के लिए दिए गए नोटिस के विरोध में 26 जून को गुस्साए लोग डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद के सरकारी बंगले पांच देश रत्न मार्ग पहुंच कर धरने पर बैठ गए. 300 से ज्यादा लोग सुबह 9 से पहले ही डिप्टी सीएम के आवास के बाहर पहुंच गए थे. पहुंचे लोग यहां एक सुर में नारे भी लगा रहे थे.

तोड़े जायेंगे 70 मकान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here