नीतीश से अलग होकर नागालैंड में चुनाव लड़ेंगे तेजस्वी…

Advertisement

Desk: बिहार के बाद अब नागालैंड में तेजस्वी दिखाएंगे जलवा. नीतीश कुमार के खिलाफ तेजस्वी करेंगें चुनाव प्रचार. जी हाँ बिहार में भले ही नीतीश – तेजस्वी की गठबंधन हो लेकिन नागालैंड में होने जा रही विधानसभा चुनाव में दोनों दल आपने बलबूते पर चुनाव लड़ेगी. बता दें नागालैंड में इससे पहले जब 2018 में चुनाव हुआ था तो जनता दल यूनाइटेड नें 14 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे. जिसमें एक पर जीत भी हासिल की थी. बाकी 13 सीटों पर भी jdu नें अच्छा प्रदर्शन किया था. जदयू के बाद अब बिहार की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी यानी की राजद ने भी बड़ा निर्णय लिया है. जी हाँ राजद ने इस चुनाव में अपना उम्मीदवार उतारने का निर्णय लिया हैं.

Join

बता दें राष्ट्रीय जनता दल यहां अधिक से अधिक 11 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. नहीं तो कम से कम राजद यहां 6 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. जी हाँ इस बात की जानकारी खुद पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और नागालैंड प्रभारी ने दी है. दरअसल राजद ने नागालैंड के अध्यक्ष से उम्मीदवारों की संभावित सूची की मांग की है. पार्टी अपने संभावित उम्मीदवारों के लिए छानबीन करेगी. इसको लेकर राजद के वरिष्ठ नेताओं की एक टीम बहुत जल्दी नागालैंड जाएगी. इस बात की जानकारी खुद पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और नागालैंड प्रभारी श्याम रजक ने दी हैं. इसको लेकर उन्होंने कहा कि राजद नागालैंड में हर हाल में चुनाव लड़ेगी भले ही वह 6 सीट पर चुनाव क्यों ना लड़े लेकिन चुनाव लड़ने में किसी भी तरह का कोई समझौता नहीं होगा.

Advertisement

विदित हो कि हाल ही में नागालैंड राजद के प्रतिनिधिमंडल नें पटना आकर पार्टी के अध्यक्ष लालू यादव के बाद सर्वमान्य नेता तेजस्वी यादव से मुलाकात की थी. जिसके बाद यह तय किया गया कि पार्टी यहां चुनाव लड़ेगी. साथ ही साथ अब इस बात की उम्मीद भी जताई जा रही है कि खुद तेजस्वी यादव यहां जाकर प्रचार-प्रसार करेंगे. हालांकि, यह कब जाएंगे इसकी जानकारी अभी तक नहीं दी गई है.

बता दें निर्वाचन आयोग ने बुधवार को त्रिपुरा मेघालय और नगालैंड में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर तारीखों का ऐलान कर दिया है. जहां त्रिपुरा में एक चरण में 16 फरवरी को मतदान होगा. तो वहीं, मेघालय और नगालैंड में 27 फरवरी को वोट डाले जाएंगे. वहीं इन तीनों राज्यों में वोटों की गिनती 2 मार्च को की जाएगी

जदयू को तो नागालैंड में सफलता मिल चुकी हैं, लेकिन क्या तेजस्वी को भी यहां सफलता हासिल कर पाएंगे . यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here