बेगूसराय गोलीकांड पर छिड़ा संग्राम, सुशील मोदी और लल्लन सिंह आमने-सामने,…

Advertisement

PATNA : बेगूसराय गोलीकांड को लेकर सरकार और विपक्ष के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। बीजेपी नेता लगातार पुलिस की जांच पर सवाल उठा रहे हैं और सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बाद बीजेपी सांसद सुशील कुमार मोदी ने गोलीकांड की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। सुशील मोदी ने सरकार पर पूरे मामले की लीपापोती का आरोप लगाया है। उधर, जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने सुशील मोदी के इस बयान पर पलटवार किया है। ललन सिंह ने कहा है कि साजिश बेनकाब होने के डर से बीजेपी के लोग इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं।

Join

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बेगूसराय गोलीकांड को लेकर एडीजी और एसपी के बयान में भारी विरोधाभाष देखने को मिला है। ऐसा प्रतीत होता है कि लोगों के गुस्से को शांत करने के लिए जल्दबाजी में कुछ लोगों को गिरफ्तार कर जनता के सामने पेश कर दिया गया। सुशील मोदी ने कहा कि इस पूरे जांच से हम संतुष्ट नहीं हैं, इसलिए इस मामले की जांच सीबीआई से कराई जाए। जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनके बारे में अभी भी पुलिस स्पष्ट नहीं है। पुलिस ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है उनके परिजन उन्हें निर्दोष बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि बिहार की पुलिस इस मामले की जांच करने में सक्षम नहीं है, इसलिए पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराई जाए।

Advertisement

उधर, सुशील मोदी के इस बयान पर जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने पलटवार किया है। ललन सिंह ने कहा है कि बीजेपी को इस बात का डर सता रहा है कि कही पूरी साजिश बेनकाब न हो जाए, इसलिए सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग चिंता नहीं करें पुलिस इस मामले की पूरी निष्पक्षता से जांच कर रही है और जल्द ही पूरी साजिश का खुलासा हो जाएगा। उन्होंने सीबीआई को तोता की संज्ञा दी है।

ललन सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘ सुशील जी, आपके वक्तव्य से स्पष्ट हो रहा है कि सही अपराधियों के पकड़े जाने से आप लोगों को डर सता रहा है कि कहीं पूरी साजिश बेनकाब न हो जाए। इसलिए अपने ‘तोता सीबीआई’ से जांच की मांग कर रहे हैं। चिंता मत करें! पुलिस प्रशासन पूरी निष्पक्षता से जांच कर रही है। साजिश का खुलासा होगा’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here