बाजार में ₹7000 प्रति लीटर बिक रहा गधी का दूध, जानिए क्या-क्या है इसके फायदे…

Advertisement

Desk: आज के समय में लोग पैसा कमाने के लिए तरह – तरह के व्यापार करते है. कुछ लोग पशुओं को पालकर अपना व्यापार करते है. लोग दूध का व्यापार करने के लिए  गाय (Cow) पालते हैं, भैंस (Buffalo)  और बकरियां (Goat) पालते हैं. जिसकी कीमत 50 से 80 रुपए प्रति लीटर है. जिसके दूध की कीमत 7,000 रुपए प्रति लीटर है.

Join

हम बात कर रहे है गधी के दूध की, जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद तो है ही साथ ही व्यापार के लिए भी  काफी अच्छा है. बता दें, गधी के दूध का उपयोग कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्टस में होता है. गधी के दूध में कई  पोषक तत्व भी पाए जाते हैं. कई बीमारियों में भी गधी का दूध फायदेमंद होता है. लेकिन गधी काफी कम दूध देती है. वहीं गधी के दूध में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं. यह एंटी एजिंग में काम आता है. गधी का दूध अन्य दूध के मुकाबले लंबे समय तक सुरक्षित भी रखा जा सकता है.

Advertisement

आपको जानकर आश्चर्य कि कर्नाटक के एक युवक ने अपनी अच्छी-खासी आईटी सेक्टर की नौकरी छोड़ डंकी  मिल्क फार्म शुरू किया है. कर्नाटक के मंगलूरु में रहने वाले श्रीनिवास गौड़ा ने 42 लाख रुपये लगाकर 20 गधियों के साथ डंकी मिल्क फार्म की शुरुआत की है. यह कर्नाटक में अपनी तरह का पहला डंकी फार्मिंग और ट्रेनिंग सेंटर है. एक रिपोर्ट कु माने तो यह दूध पैकेट में बेचा जाएगा और इसके  30 एमएल के दूध की कीमत (Dunky Milk Price) 150 रुपये होगी. वहीं यह दूध दुकानों के साथ-साथ मॉल और सुपरमार्केट में भी उपलब्ध होगा. गौड़ा का दावा है कि उन्हें गधी के दूध के 17 लाख रुपये के ऑर्डर अब तक तो मिल चुके है.

अब चलिए हम आपको यह बताते है कि आखिर गधी का दूध इतना महंगा क्यों होता है. दरअसल गधी के दूध  के कई फयदे है. आइए इन फायदों के बारे में जानते है.

त्वचा के लिए फायदेमंद- गधी का दूध प्राकृतिक मॉइस्चराइजर के रूप में काम करता है. इसलिए यह स्किन को सॉफ्ट, ग्लोइंग बनाता है. साथ ही बढ़ती उम्र के प्रभाव को भी कम करता है.

एंटी एलर्जिक – कई बार गाय या भैंस के दूध से छोटे बच्चों को या बड़ों को भी एलर्जी हो जाती है मगर गधी के दूध से कभी एलर्जी नहीं होती. इसके दूध में एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी एजीन तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की क्षमता विकसित करते हैं.

मां के दूध के बराबर होता है पौष्टिक- गधी के दूध में भरपूर मात्रा में विटामिन ब, विटामिन B12, और विटामिन C होता है. विशेषज्ञों के मुताबिक, इसमें मां के दूध जितनी पौष्टिकता होती है.

सांस संबंधी बीमारियों के लिए है फायदेमंद- गधी के दूध में मिनरल और कैलोरी काफी ज्यादा मात्रा में पाया जाता है. जो दमा और सांस संबंधी समस्याओं को ठीक करने में यह फायदेमंद साबित होता है.

डायबिटीज के इलाज में
कुछ विशेषज्ञों के अनुसार, गधी के दूध में मौजूद प्रोटीन में ऐसे गुण होते हैं, जो टाइप 2 डायबिटीज के इलाज में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.  गधी का दूध ग्लूकोज के स्तर को भी नियंत्रित करता है. साथ ही इंसुलिन के प्रतिरोध में सुधार लाता है. लेकिन अगर आप किसी इलाज के लिए गधी के दूध का उपयोग करना चाहते हैं तो डॉक्टर से जरूर सलाह लें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here